दो जोड़ी कपडा अभियान!

Cloth Distribution

Its not about HOW MUCH WE HAVE, ITS ABOUT HOW MUCH YOU GAIN BY DONATING !
A noble cause for the self contentment of us by sharing a smile on someone’s face..:)

नया सवेरा संस्था के “दो जोड़ी कपडा अभियान का शुभारम्भ नया सवेरा संस्था निदेशिका प्रियंका गुप्ता जी एवं नया सवेरा संस्था के फाउंडर राकेश मिश्रा के कर कमलों द्वारा 28 जनवरी को प्रारम्भ हुआ. 29 जनवरी को विराटनगर और शाहपुरा की कुछ बंजारा बस्तियों में कपडे वितरण किये गए, 30 जनवरी को विराटनगर और जयपुर ट्रांस्पोर्ट नगर और गुरुद्वारा मोड़ में अभियान को जोड़ा गया, 31 जनवरी को मानसरोवर वी.टी.रोड की कच्ची बस्ती में अभियान को इन्फो ऑब्जेक्ट की मिस.उर्वशी जी एवं नया सवेरा संस्था ट्रस्टी अनीता पारीक जी के नन्हे हाथों के द्वारा कार्यक्रम की शुरुआत की गयी, साथ में संस्था की निदेशिका प्रियंका गुप्ता जी एवं चाइल्ड वेलफेयर की भावना पूनिया जी ने इस अभियान को आगे बढ़ाया. संस्था के फाउंडर राकेश मिश्रा ने बताया की संस्था हर साल इस अभियान को पिछले 3 साल से करते आ रही है. नया सवेरा संस्था की निदेशिका प्रियंका जी ने बताया की अब से अगली बार इस अभियान को नया रूप दिया जायेगा. “चाइल्ड क्लोथ्स”, “वीमेन क्लोथ्स”, गर्ल्स क्लोथ्स” इस प्रकार डोनर रखे जायेंगे जिस से अभियान अच्छा और बड़ा चले. हर बार यही प्रोब्लम्स आती है की इवेंट टाइम पता नहीं रहता कौनसा क्लोथ्स किसके लिए है, उसे पॉली में से ओपन करना पड़ता है जिससे समय की प्रॉब्लम्स हो जाती है. एक दिन में एक ही कच्ची बस्ती हो पाती है डोनेट के लिए. वहीं अनीता पारीक जी ने बताया की इन बस्तियों का सर्वे करके इन लोगों को चिन्हित किया जायेगा. भावना पूनिया जी का कहना था की जिस प्रकार हम लोग कच्ची बस्तियों में जाकर लोगों की हर तरीके से मदद करना चाहते हैं उस प्रकार उन लोगों में चाह नहीं है की कोई उनकी मदद करे. वहां जाते ही संस्था के सभी लोगों को और क्लोथ्स डोनर्स को घेर लिया जाता है और हर तरफ से सिर्फ एक ही आवाज आती है “मुझे भी दो-मुझे भी दो, ओ भैया, ओ दीदी मुझे भी दो”. अगली बार ये अभियान बहुत बड़े लेवल पर होगा और इस अभियान में कई सावधानियां और व्यवस्था रखीं जायेंगी. नया सवेरा संस्था तहे दिल से इन्फो ऑब्जेट्स और एच.आर.तृषा, मिस.उर्वशी, रविकान्त दीक्षित जी और सभी क्लोथ्स डोनर्स का तहे दिल से आभार व्यक्त करता है!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »